विश्व दुग्ध दिवस पर सुंदर फूड्स एंड डेयरी ने लांच किया अपना नया ब्रांड “समूह”, लखपति दीदी का सपना पूरा करना है मिशन

भोपाल- विश्व दुग्ध दिवस के अवसर पर सुंदर फूड्स एंड डेयरी ने अपना नया ब्रांड समूह लान्च किया है। भोपाल के कुशाभाऊ ठाकरे सभागार में सुंदर डेयरी के संस्थापक और प्रमोटर कार्तिकेय सिंह चौहान और सह-संस्थापक कुणाल सिंह चौहान ने “समूह” की लॉन्चिग की। समूह एक उच्च गुणवत्ता वाला डेयरी प्रोडक्ट है। महिला सशक्तिकरण इस ब्रांड का मुख्य उद्देश्य है। यह एक नारी शक्ति का आंदोलन है, जिसमें डेयरी प्रोडक्ट का उत्पादन, उपार्जन और सप्लाई तक महिलाएं संचालित कर रही है। सुंदर फूड् एंड डेयरी के सह-संस्थापक कुणाल सिंह चौहान ने कहा कि, 2017 में हमने फर्म शुरू की थी और साल 2020 में मिल्क कलैक्शन प्रिक्योरमेंट का काम शुरू किया था। धीरे-धीरे हमारी पूरी वैल्यू चैन में मिल्क कलैक्शन से लेकर प्रोसेसिंग और सेलिंग को लेकर हमने इन तीन-चार सालों में यह प्रयास किया कि, हम ज्यादा से ज्यादा महिलाओं को आगे लाकर उनके सशक्तिकरण के लिए कम करें। आज हमने हमारे ब्रांड की री-लॉन्चिंग भी इसलिए की है ताकि हम महिलाओं के माध्यम से ये मैसेज को पूरे समाज तक पहुंचा सके। आज वर्ल्ड मिल्क डे के अवसर पर हमने हमारा नया नाम सभी के बीच में प्रस्तुत किया है। हमारे जो भी प्रोडक्ट रेंज अभी मार्केट में आती है दूध, दही, छाछ, लस्सी, पनीर जितने भी प्रकार के प्रोडक्ट हैं। सबके नाम हम धीरे-धीरे समूह ब्रांड नाम से सेल करने का काम करेंगे। हमारा डिस्ट्रीब्यूशन मध्यप्रदेश में लगभग 15 जिलों में हैं, यहां पहले से ही हमारे प्रोडक्टस जाते हैं। इसके साथ-साथ राजस्थान बॉर्डर पर भी कोटा, सवाई माधोपुर तक हमारे प्रोडक्ट्स जाते हैं। फ्यूचर में हमारा प्लान यही है कि हम एमपी का टॉप ब्रांड बनना चाहते हैं, और मध्यप्रदेश के साथ-साथ फिर हम पूरे देश में भी धीरे-धीरे हमारे ब्रांड को पहुंचाने का काम करेंगे।

महिला सशक्तिकरण पर फोकस

सुंदर फूड्स एंड डेयरी ने साल 2020 तक स्थानीय किसानों को अपने साथ जोड़ा और फिर दूध से बने उत्पाद लॉन्च किए। व्यवसाय जब आगे बढ़ा तो सुंदर डेयरी ने महिला सशक्तिकरण पर फोकस किया। महिला केंद्रित ग्राम संग्रह केंद्र बनाए, जहां महिला किसान उत्पादक संगठनों के माध्यम से दूध खरीदा जाता है। चूंकि सुंदर डेयरी की प्राथमिक उपभोक्ता महिलाएं हैं, इसलिए यहां मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट से लेकर डिस्ट्रिब्यूटर्स में भी महिलाएं शामिल है। सुंदर फूड्स एंड डेयरी (सुफोडा) भारत में स्थित एक अग्रणी डेयरी उत्पाद निर्माता है। साल 2017 में स्थापित ये कंपनी तब से ही उपभोक्ताओं के लिए अपनी गुणवत्ता और प्रतिबद्धता को बढ़ा रही है। सुंदर डेयरी में वर्तमान में 6 हजार से ज्यादा महिला किसान शामिल हैं और प्रतिदिन 80 हजार लीटर से ज्यादा प्रोक्योरमेंट है।

लखपति दीदी का सपना पूरा करेंगे

समूह के संस्थापक कार्तिकेय सिंह चौहान ने कहा कि, जब हमारे मन में ये विषय आया कि ब्रांड की व्यापार से हटकर भी कोई पहचान होनी चाहिए, तो इसमें हमें पिताजी का मार्गदर्शन मिला, और महिलाओं के प्रति प्रदेश में और समाज में जो उन्होंने काम किया है वो हमारी प्रेरणा बना। उन्होंने सपना देखा है लखपति बहनों का और आज गर्व के साथ कहना चाहता हूं, कि, लखपति दीदीयों, लखपति बहनों का सपना जो हमारे पिताजी ने देखा है, उसको मैं, मेरा भाई और समूह की पूरी टीम पूरा करने जा रही है। हमारे देश की आधी आबादी को पूरा हक देना यह हम अपनी जिम्मेदारी समझते हैं और हम मानते हैं कि, महिला सशक्तिकरण के प्रति यह जिम्मेदारी को हम निभाएंगे और जब तक इस जिम्मेदारी, इस कर्तव्य को पूरी कर्तव्य निष्ठा के साथ हम निभा नहीं लेते, हम चैन से नहीं बैठेंगे, आराम से नहीं बैठेंगे। हमारा संकल्प, दीदियों, बहनों को आर्थिक और सामाजित रूप से सशक्त बनाना है।

समूह को एनवायरमेंट फ्रेंडली ब्रांड बनाएंगे

कार्तिकेय सिंह चौहान ने आगे बताया कि, जिस प्रकार से दुनिया का जलवायु परिवर्तन हो रहा है, ग्लोबल वार्मिंग का खतरा मंडरा रहा है, लगातार टेंपरेचर बढ़ता जा रहा है, पल्यूशन बढ़ता जा रहा है। पर्यावरण से संबंधित कई समस्याएं भविष्य में सामने आ सकती हैं, इन समस्याओं के निवारण के लिए समूह प्रतिबद्ध है। हमारे फैक्ट्री परिसर में समूह ये कोशिश करता है कि, जितना पानी हो सके रेन वाटर हार्वेस्टिंग के माध्यम से उसका इस्तेमाल करें और अपने ग्राउंड वाटर सिस्टम को रिचार्ज करने में उसका उपयोग करें। हमारी ऊर्जा का 40% हम सोलर एनर्जी से बनाते हैं। और यहां तक कि हमारी फैक्ट्री में जो पानी इस्तेमाल होता है, क्लीनिंग, वाशिंग के लिए उसको हम नाली से बाहर नहीं करते बल्कि कैसे उसे मल्टीपल स्टेज्स में रिसाइकल किया जाए इसका प्रयास करते हैं। मल्टीपल रिसाइकल करके हम उसको खेती के उपयोग में भी लाते हैं और अन्य कामों से भी उसको जोड़ने का काम करते हैं। हमने यह तय किया है कि, समूह के सफर के साथ साथ जैसे-जैसे हम आगे बढ़ते जाएंगे, हम अपने इस समूह को, इस कंपनी को जीरो कार्बन फुटप्रिंट वाली कंपनी के रूप में स्थापित कर एक एनवायरमेंट फ्रेंडली ब्रांड के रूप में इसे स्थापित करेंगे।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *